About

     नमस्कार मैं महेश आहिर गुजरात के एक छोटे से शहर राजुला का रहने वाला हूं। मैं एक इनोवेटर हूं। और साथ में एक किसान भी हूं।  मेरे जीवन का मूल मंत्र है जय जवान जय किसान जय विज्ञान।  इसीलिए मैं मेरे अंदर रहे विज्ञान को देश के जवान और किसान को उपयोगी हो ऐसी कोशिश करता रहता हूं।  और देश को उपयोगी हो ऐसे इनोवेशन बनाता रहता हूं।

   हमारा  यह इनोवेशन बोरवेल रेस्क्यू रोबोट मैंने हमारे देश को समर्पित कर दिया है।

     हमारा विजन बस इतना सा ही है कि देश में कभी भी बोरवेल एक्सीडेंट ना हो और अगर कभी बोरवेल एक्सीडेंट हो तो कोई मासूम बच्चा अपनी जान ना गवाएं।

IMG_20201114_121748.png

Vision

unnamed.png

Mission

  हमारा मिशन यह रहेगा कि अगर कभी भी देश में कोई बोरवेल एक्सीडेंट हो और कोई मासूम बच्चा बोरवेल में फस जाए तो वह बच्चा अपनी जान ना गवाएं। और उस बच्चे को बोरवेल में फ़सकर ज्यादा समय न रहना पड़े। और उस बच्चे को आधे से 1 घंटे के अंदर अंदर सही सलामत रेस्क्यू कर ले।

       इसके लिए हम ऐसी कोशिश करेंगे कि कोई भी किसान अपना जो बोरवेल है उसे खुला न छोड़ें।  और अगर दुर्भाग्य से कोई बच्चा बोरवेल में गिर जाता है। और बोरवेल दुर्घटना बन जाती है। तो हमारे बोरवेल रेस्क्यू रोबोट की मदद से उस बच्चे को आधे घंटे के अंदर अंदर सही सलामत  रेस्क्यू कर ले। और सही सलामत अपने परिवार को सौपे।

 यह कार्य के लिए हम सब देशवासियों को साथ में मिलकर फर्स्ट फेज में देश के हर एक राज्य में एक एक बोरवेल रेस्क्यू रोबोट को पहुंचाना है।  ताकि कभी भी किसी भी राज्य में बोरवेल दुर्घटना हो तो कोई मासूम अपनी जान गवाए। और सेकंड फेज का हमारा मिशन रहेगा कि हम देश के हर एक डिस्ट्रिक्ट के अंदर हमारा यह बोरवेल रेस्क्यू रोबोट पहुंचाएं। ताकि भविष्य में अगर ऐसी कोई दुर्घटना होती है और बोरवेल के अंदर कोई मासूम बच्चा फस जाता है तो बच्चे को अपनी जान न  गंवानी पड़े।

बोरवेल रेस्क्यू रोबोट बनाने में हमारी हेल्प जरूर करे
clik this coin to donate us

asdfghjkl.gif